June 25, 2021

एक व्यक्ति ने कथित तौर पर अपने चार बच्चों की गला दबाकर हत्या करने के बाद खुद फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली

जयपुर ( राजस्थान ) :-  राजस्थान के बांसवाड़ा जिले के कुशलगढ़ थाना क्षेत्र में बुधवार को एक व्यक्ति ने कथित तौर पर अपने चार बच्चों की गला दबाकर हत्या करने के बाद खुद फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. पुलिस ने इसकी जानकारी दी. थानाधिकारी प्रदीप कुमार ने बुधवार को बताया कि थाना क्षेत्र के डूंगलापानी गांव में बाबू नामक व्यक्ति ने अपने चार बच्चों राकेश, भागिया, विक्रम एवं गणेश की कथित रूप से गला दबाकर हत्या कर दी. उन्होंने बताया कि इसके बाद उसने खुद फांसी लगा कर आत्महत्या कर ली.

पुलिस की मानें तो घटनास्थल से कोई सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ है. शवों का पोस्टमार्टम किया जा रहा है. थानाधिकारी प्रदीप कुमार ने बताया कि पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिए जाएंगे.

बच्चों के गले पर रस्सी के निशान

थानाधिकारी ने बताया कि चारों बच्चों की उम्र दो साल से आठ साल के बीच है. बच्चों के गले में रस्सी के निशान भी पाए गए है. उन्होंने बताया कि प्रारंभिक जांच से पता चला है कि मृतक शराब का आदी था और संभवतया उसने नशे में घटना को अंजाम दिया है. उसका अपनी पत्नी के साथ 8-10 दिन पहले विवाद हो गया था जिसके बाद पत्नी पीहर चली गई थी.
बच्चों की मां ने अपने पति के खिलाफ बच्चों की हत्या का मामला दर्ज करवाया है. शिकायत मिलने के बाद पुलिस ने केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है.

हनुमानगढ़ में बड़ा हादसा

हनुमानगढ़ जिले के लखूवाली इलाके में एक कार नहर में गिर गयी. इससे कार में सवार 4 लोगों की मौत हो गई. चारों की मौत नहर में डूबने से हुई. कार की तलाश के लिये करीब 14 घंटे तक चलाये गये रेस्क्यू ऑपरेशन के बाद बुधवार दोपहर को उसे निकाला जा सका है. बचाव दल और हनुमानगढ़ टाउन पुलिस ने कार को नहर से बाहर निकाल लिया है. उसमें सवार चारों लोगों के शव कार में ही पड़े मिले हैं.

पुलिस के अनुसार, नहर में कार गिरने की घटना मंगलवार रात करीब 11 बजे हुई. संगरिया निवासी रमेश अपने परिचित विनोद और उसके परिवार के साथ सीकर से संगरिया लौट रहा था. रात को रमेश ने पेशाब करने के लिये कार को इंदिरा गांधी नहर के पास रोका, लेकिन उसने कार में हैंड ब्रेक नहीं लगाया. ढलान होने के कारण कार नहर में जा गिरी. इससे विनोद, उसकी पत्नी, पुत्री और एक परिचित महिला कार के साथ नहर में बह गये.

error: Content is protected !!