जालौन:कोरोना संक्रमण (COVID-19) काल में सर्वाधिक रिवर्स पलायन के केन्द्र में रहा बुन्देलखण्ड अब वैक्सीन के लिए तैयार है. वैक्सीन लगाए जाने के लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अगुआई में पूर्वाभ्यास ड्राई रन (Dry Run) किया गया है. लखनऊ में हुए इस आयोजन के बाद बुन्देलखंड के दोनों मंडलों झांसी और चित्रकूट में इसके साथ ही इसके साथ ही जिला और मंडल स्तर पर वैक्सीनेशन के लिए प्रशासनिक अधिकारियों ने कमर कस ली है. बुन्देलखंड के दोनों मंडलों के सभी सात जिलों के लिए 27 लाख 80 हजार कोविड 19 वैक्सीन सिरिंजेस भेज दी गईं हैं. इनमें झॉसी व चित्रकूट धाम मण्डल को 18 लाख 08 हजार सिरिंज उपलब्ध करा दी गई हैं, जबकि शेष 9 लाख 72 हजार सिरिंजों को स्टॉक के रूप में अवशेष रखा गया है.

झांसी के मण्डलायुक्त सुभाष चन्द्र शर्मा ने झांसी स्थित मण्डलीय ड्रग वेयर हाउस का निरीक्षण किया. मण्डलीय ड्रग वेयर हाउस के भवन में एक वॉक इन फ्रीज़र है (WIF) स्थापित है. इसी भवन में वॉक इन कूलर के लिए एक कंकरीट प्लेटफॉर्म बनाया गया है, इसमें वैक्सीन की भण्डारण क्षमता 12 हजार लीटर तक होगी। इसी में कोविड-19 की वैक्सीन रखी जाएगी.

संयुक्त निदेशक डॉ. जेके गुप्ता के मुताबिक कोविड-19 टीकाकरण की प्रशासनिक तैयारी कर ली गई है. बुन्देलखंड के दोनों मंडलों के लिए 27 लाख 80 हजार सिरिंजें प्राप्त हो चुकी है, जिसमें से झांसी और चित्रकूट धाम मण्डल को 18 लाख 08 हजार सिरिंज उपलब्ध करा दी गई है. इसके अलावा शेष 9 लाख 72 हजार नग सिरिन्ज स्टॉक के रूप में अवशेष रखी गईं है. झांसी के मंण्डलायुक्त सुभाष चन्द्र शर्मा ने जिला क्षय रोग नियन्त्रण अधिकारी, कार्यालय भवन में स्थापित जनपदीय जिला वैक्सीन स्टोर का निरीक्षण किया. निरीक्षण के दौरान ILR में रखी पैण्टावैलेन्ट वैक्सीन का निरीक्षण भी किया गया. इसी के साथ-साथ डीप फ्रीजर में रखे आईस पैक को भी देखा गया कि वह जमे हुए है या नहीं.

निरीक्षण के दौरान संयुक्त निदेशक डॉ. जेके गुप्ता ने झांसी कमिश्रर को जानकारी दी कि झांसी मण्डल के तीनों जनपदों को दो-दो नए आईएलआर उपलब्ध करा दिये गए है, जिसमें कि कोविड-19 वैक्सीन को संरक्षित किया जाना है. निरीक्षण के बाद मंडलायुक्त ने वैक्सीनेशन के दौरान अधिकारियों को पूरी सतर्कता बरतने को कहा है

By admin

error: Content is protected !!